mahatma gandhi speech in hindi:- महात्मा गाँधी भाषण (speech)

mahatma gandhi speech in hindi:- महात्मा गाँधी भाषण (speech)

 Mahatma Gandhi Speech in Hindi

महात्मा गाँधी भाषण(speech):-

mahatma gandhi ji hindi speech poster
महात्मा गाँधी जी हिंदी speech

महात्मा गाँधी जी को आज पूरी दुनिया रस्त्रा पिता के रूप में जानते हें. महात्मा गाँधी जी एक महान व्यक्ति थे ।उन्होंने अपने जीवन में कई बड़े बड़े काम किये।

आज हम इस आजाद देश में रहते हे वो भी महात्मा गाँधी के कारण । ये आज़ाद भारत उन्ही की ही देंन हे ।महात्मा गाँधी जी हमेशा अहिंसा की नीति का पालन करते थे। उनका जीवन अहिंसा वादी था ।
उन्होंने अहिंसा की नीतियों से ही भारत को आजाद कराया।

यह भी पढे :- mahatma gandhi biography in hindi: महात्मा गाँधी का जीवन परिचय


गाँधी जी ने भारत को आज़ाद करवाने के अलावा भी और कई सारे महत्वपूर्ण कार्य किये जेसे ग्रामीणों और किसानो के विकास के लिए आन्दोलन चलाये जिनमे चंपारण और खेडा आन्दोलन प्रमुख थे।

गाँधी जी बहोत ही आशावादी विचारधारा के व्यक्ति थे। उन्होंने सामजिक विकास में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया.
 गाँधी जी ने जब पाया की देश में छुआछुत की घटनाए दिनों दिन बदती जा रही हे तो उन्होंने दलित आन्दोलन चलाया ताकि दल्तो को अपना हक़ मिल सके । उन्होंने दलितों को हरिजन नाम से संबोधित किया ।

गाँधी जी कभी भी परेशानियों से डरकर पीछे नही हटते थे बल्कि उनका डट कर सामना करते थे।
गाँधी जी बचपन में एक ओसत बच्चे की तरह ही थे पर जब वो वकालत की पढाई करके दक्षिण अफ्रीका गये तो वहा हो रहे भारतीयों पे नस्ल वादी अत्याचार देख कर गाँधी जी ने इसके खिलाफ आवाज़ उठाने की सोच ली और यही से उनमे नेतृत्व का गुण विकसित हुआ।

गाँधी जी ने कभी लोगो को हिसंक होकर अपनी आवाज़ उठाने को नही कहा उन्होंने हमेशा अहिंसा के साथ चलने के लिए लोगो को प्रेरित किया ।आखिरकार गाँधी जी के प्रयासों से 15 अगस्त 1947 को भारत देश को ब्रिटिश राज से छुटकारा मिला।

यह भी पढ़े :-mahatma gandhi biography in hindi: महात्मा गाँधी का जीवन परिचय


उनके बारे में तो प्रसिद वैज्ञानिक एल्बर्ट आइंस्टीन ने भी कहा हे की हजार साल बाद आने वाली नस्लें इस बात पर मुश्किल से विश्वास करेंगी कि हाड़-मांस से बना ऐसा कोई इंसान भी धरती पर कभी आया था।

गाँधी जी को अपने देश से बहोत प्रेम था इसलिए वो खुद भी स्वदेशी बनी चीजो का इस्तेमाल करते थे और लोगो को भी स्वदेशी बनी चीजो के इस्तेमाल के लिए कहते थे। वो लोगो को विदेशी चीजो का बहिष्कार करने को प्रोत्साहित करते थे।

 गाँधी जी को खादी से बहोत लगाव था  वो खादी से बने वस्त्र ही पहनते थे । उनके जीवन से हमे आत्मनिर्भर बनने की सिख मिलती हे।

 गाँधी का स्वाभाव बहोत ही सरल था और वो बहोत सादा जीवन व्यतीथ करते थे। महात्मा गाँधी जी का जीवन सादगी से भरा  हुआ था।

 देश के लिए महात्मा गांधी के अहिंसक संघर्ष को कभी भी भुलाया  नहीं जा सकता। उन्होंने पूरे जीवन को देश की स्वतंत्रता के लिए न्योछावर कर दिया। इस महात्मा की मृत्यु 30 जनवरी, 1 9 48 को हुई थी।
 ऐसी हस्ती को सत सत नमन ।
तो दोस्तों  लगा हमारा महात्मा गाँधी पर निबंध अगर अच्छा   होतो  mahatma gandhi speech in hindi:- महात्मा गाँधी भाषण (speech)   को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे। 

0 Response to "mahatma gandhi speech in hindi:- महात्मा गाँधी भाषण (speech)"

Post a Comment